ads

कोरोना काल में यह बैंक देर रहे हैं सबसे सस्ता गोल्ड लोन, मुसीबत में आएगा काम

नई दिल्ली। सोना खरीदने का मौसम हमारे पीछे हो सकता है, लेकिन पीली धातु की उपयोगिता इसकी चमक और सजावटी मूल्य से अधिक है। पिछले आठ महीनों में दुनिया ने जो संकट देखा है, उसमें सोना कई बार आपातकालीन फंड जुटाने के काम में आ सकता है। अप्रत्याशित रूप से, कोविड प्रभावित अवधि के दौरान गोल्ड लोन की मांग बढ़ी है। खास बात तो यह है कि इस दौरान गोल्ड लोन की दरों में गिरावट देखने को मिली है। जिससे उधारकर्ताओं के लिए धन जुटाने के लिए अपनी सोने की होल्डिंग को गिरवी रखना आसान हो गया है।

इन बैंकों में गोल्ड सबसे सस्ता
मौजूदा समय में सबसे सस्ता गोल्ड लोन पंजाब एंड सिंध बैंक का है, जो बैंकबाजार डॉट कॉम के आंकड़ों के अनुसार, तीन साल के कार्यकाल के साथ 5 लाख रुपए के लोन के लिए प्रति वर्ष केवल 7 फीसदी का शुल्क लेता है।

इस लिस्ट में अगला नाम बैंक ऑफ इंडिया का है जो 7.35 फीसदी की ब्याज दर से गोल्ड लोन प्रोवाइड करा रहा है। देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का गोल्ड लोन 7.5 फीसदी प्रति वर्ष की ब्याज दर पर दे रहा है। नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों की बात करें तो इस में मामले में थोड़ी आक्रमक देखने को मिल रही हैं, बहुत अधिक दरों पर स्वर्ण ऋण प्रदान कर रही हैं।

आईआईएफएल फाइनेंस सबसे सस्ती दरों की पेशकश करता है, जो 9.24 फीसदी से शुरू होती है, इसके बाद बजाज फिनसर्व 11 फीसदी, मुथूट फाइनेंस 11.9 फीसदी और मणप्पुरम फाइनेंस 12 फीसदी शामिल हैं।

यह भी पढ़ेंः- आम लोगों पर पेट्रोल और डीजल की महंगाई की मार, जानिए आज आपके शहर में कितना पड़ा भार

इन बैंकों को ही क्यों किया गया शामिल
गोल्ड लोन देने वाले यह सभी बैंक और एनबीएफसी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड हैं। जिनका डाटा एकत्र कर आपके सामने रखा गया है। जिन बैंकों का डाटा उनकी वेबसाइट पर नहीं है उन बैंकों को कंसीडर नहीं किया गया है। यह पूरा डाटा 19 नवंबर, 2020 तक संबंधित बैंकों की वेबसाइटों पर उपलब्ध है। यह बैंक तीन साल के कार्यकाल के साथ 5 लाख रुपए के ऋण के लिए ब्याज दर बताई गई है।

किन दस्तावेजों की होती है जरुरत?
गोल्ड लोन लेने के लिए बैंक या एनबीएफसी आपको विभिन्न दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहता है। आम तौर पर आवश्यक दस्तावेजों में आपकी पहचान का प्रमाण जैसे पैन, आधार आदि और पते का प्रमाण जैसे आधार, पासपोर्ट, वोटर-आईडी कार्ड आदि और आपकी तस्वीर शामिल है।

यह भी पढ़ेंः- छोटे शेयर ने 140 दिन में कराई 1200 फीसदी तक की कमाई, आंकड़ों में जानिए सच्चाई

क्या हैं चार्जेस?
घर, ऑटो और व्यक्तिगत ऋण जैसे ऋणों के लिए, उधारकर्ता को ऋण लेने के लिए आमतौर पर प्रोसेसिंग शुल्क / शुल्क का भुगतान करना पड़ता है। गोल्ड लोन लेते समय, प्रोसेसिंग फीस के अलावा, एक आवेदक को सोने के मूल्यांकन के लिए भुगतान करने के लिए कहा जा सकता है जिसका उपयोग ऋण संस्थान द्वारा संपाश्र्विक के रूप में किया जाएगा। उदाहरण के लिए, एचडीएफसी बैंक 1.5 लाख रुपए तक के ऋण के लिए मूल्यांकन शुल्क के रूप में 250 रुपए और ऋण के लिए 500 रुपए का शुल्क लेता है।



Source कोरोना काल में यह बैंक देर रहे हैं सबसे सस्ता गोल्ड लोन, मुसीबत में आएगा काम
https://ift.tt/3fDopI9

Post a Comment

0 Comments