ads

बोइंग से प्रतिबंध हटने पर स्पाइजेट के शेयरों में क्यों आया उछाल, जानिए पीछे का कारण

नई दिल्ली। विमान बनाने वाली वैश्विक कंपनी बोइंग के 737 मैक्स जट पर से अमरीकी संघीय विमानन प्रशासन ने प्रतिबंधों को हटा लिया है। वैसे अभी तक भारत की ओर से इन विमानों को उडऩे की परमीशन नहीं दी है। जानकारी के अनुसार एफएए की ओर मंजूी के बाद डीजीसीए की ओर से जल्द ही परमीशन मिल सकती है। आपको बता दें कि 2018 और 2019 के बीच पांच महीनों के अंतराल में बोइंग के 737मैक्स विमान क्रैश हो गए थे। यह दोनों हादसे इंडोनेशिया और इथोपिया में हुए थे। जिनमें 350 से ज्यादा लोगों की जान चली गई थी। खास बात तो ये है कि इन प्रतिबंधों के हटने के कारण भारतीय एयरलाइन स्पाइसजेट के शेयरों में करीब 11 फीसदी तेजी देखने को मिल रही है।आखिर बोइंग और स्पाइसजेट में क्या कनेक्शन है आपको भी बताते हैं...

स्पाइसजेट के शेयरों में 11 फीसदी का उछाल
सुबह 10 के कारोबार में स्पाइसजेट का शेयर 11 फीसदी की तेजी के साथ 75.40 रुपए पर कारोबार कर रहा था। आज कंपनी का शेयर 68.25 रुपए पर तेजी के साथ खुला था। जबकि कल कंपनी का शेयर 66.35 रुपए पर खुला था। जानकारों की मानें तो कंपनी एक बार फिर से उड़ान भरने तैयारी कर रही है।जिसकी वजह से भी शेयरों में तेजी देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना वायरस का असर, बैंकिंग सेक्टर में दबाव से शेयर बाजार में गिरावट

यह भी है एक बड़ी वजह
बोइंग 737 मैक्स विमानों को एएफए की ओर हारी झंडी मिलने की वजह से भी स्पाइसजेट के शेयरों में तेजी का रुख बना हुआ है। वास्तव में स्पाइसजेट के पास बोइंग 737 मैक्स मॉडल के 12 विमान है। जिनका संचालन अब कंपनी कर सकेगी। प्रतिबंधों की वजह से कंपनी के यह सभी विमान ग्राउंडेड थे। जिसकी वजह से कंपनी को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा था। उसके बाद कोरोना की वजह से कंपनी को काफी नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़ेंः- छठ पर्व पर फल, सब्जियां महंगी, जानिए कितने हो गए आलू, टमाटर और बैंगन के नए दाम

डीजीसीए की हरी झंडी का इंतजार
स्पाइजेट को अब भारतीय नियामक डीजीसीए की ओर से हरी झंडी मिलने का इंतजार है। जानकारों की मानें तो एएफए की ओर से बोइंग के मॉडल को हरी झंडी मिलने के बाद डीजीसीए की ओर से भी हरी झंडी मिल सकती है। जिसके बाद भारतीय आसमान पर भी बोइंग का 737 मैक्स मॉडल उड़ान भरता हुआ दिखाई दे सकता है।

यह भी पढ़ेंः- कितने हो गए पेट्रोल और डीजल के दाम, यहां जानिए फटाफट अपडेट

52 हफ्तों की उंचाई पर पहुंचकर फिसला इंडिगो
वहीं दूसरी ओर इंडिगो एयरलाइन का शेयर 52 हफ्तों की उंचाई पर पहुंचकर फिसल गया। आज कंपनी के शेयर की शुरूआत अच्छी नहीं हुई थी। एक रुपए की गिरावट के साथ 1702 रुपए पर खुला था। उसके बाद तेजी के साथ उछाल देखने को मिली और कंपनी का 1734.35 रुपए के साथ 52 हफ्तों की उंचाई पर पहुंच गया। उसके बाद से शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है। मौजूदा समय में कंपनी का शेयर 11 रुपए की गिरावट के साथ 1692 रुपए के साथ कारोबार कर रहा है।



Source बोइंग से प्रतिबंध हटने पर स्पाइजेट के शेयरों में क्यों आया उछाल, जानिए पीछे का कारण
https://ift.tt/3fdbw7j

Post a Comment

0 Comments