ads

उम्मीद 2021 - शॉर्ट टर्म, मिड टर्म निवेश और फ्लेक्सिबल पोर्टफोलियो पर होगा ज्यादा ध्यान

कोविड-19 के बाद एक ही चीज का अंदाजा लगाया जा सकता है और वह है कि दुनिया और अधिक अप्रत्याशित रूप से चलेगी। सुरक्षा के परम्परागत स्रोत जैसे, जीवनभर की गारंटी वाला रोजगार, निवेश पर निश्चित रिटर्न और पेंशन व पीएफ की निश्चितता गायब हो जाएगी। लोगों को अपने और अपने परिवार को अनिश्चितता और अस्थिरता से बचाने के लिए सेफ्टीनेट की बाड़ लगानी होगी। वैल्थ मैनेजमेंट के प्रति उन्हें अब अधिक डायनेमिक और फ्लेक्सिबल दृष्टिकोण अपनाना होगा। अब लम्बे समय के निवेश के स्थान पर शार्ट और मिड टर्म निवेश के अवसरों पर ध्यान लगाना होगा ।भविष्य में दो स्तरों पर कार्य किया जाना चाहिए। आने वाले समय में निवेश को लेकर किन बातों का ध्यान रखना है इस मामले में हमने मार्केट एक्सपर्ट संदीप घोष (बिजनेस लीडर) से बात की।

पहला परिवार के लिए सुरक्षा चक्र तैयार करना और दूसरा अधिकतम निवेश प्राप्त करना। बीमा को प्राथमिकता देना जिसमें मेडिक्लेम, दुर्घटना बीमा और जीवन बीमा तीनों को ही शामिल किया जाना चाहिए।

दूसरा आवासीय प्रॉपर्टी का इंतजाम करना भी सुरक्षा चक्र की प्राथमिकता रहेगी। अधिकतम रिटर्न प्राप्त करने के लिए पुराने अटके निवेश को मुक्त कर नए सिरे से उसकी प्लानिंग की जानी चाहिए। याद रखना होगा कि कोविड बाद के युग में व्यक्ति को अपना स्वयं का मालिक, इन्वेस्टमेंट मैनेजर और वित्तीय सलाहकार सबकुछ खुद ही बनना होगा।



Source उम्मीद 2021 - शॉर्ट टर्म, मिड टर्म निवेश और फ्लेक्सिबल पोर्टफोलियो पर होगा ज्यादा ध्यान
https://ift.tt/2LL1EqM

Post a Comment

0 Comments