ads

इन 6 अभिनेत्रियों को रातों रात स्टार बनाने वाले निर्देशक हैं Subhash Ghai, ‘एम’ से शुरू होते हैं चार के नाम

नई दिल्ली | बॉलीवुड के बेहद सफल निर्माता-निर्देशक सुभाष घई (Subhash Ghai) ने हिंदी सिनेमा को कई सुपरहिट फिल्में दी हैं। राज कपूर के बाद उन्हें बॉलीवुड का दूसरा शो मैन भी कहा जाता था। उनका जन्म 24 जनवरी, 1945 को नागपुर में हुआ था। आज सुभाई घई 76 साल के हो गए हैं और अब लोग उनका निर्देशन काफी मिस करते हैं। सुभाष घई ने दिल्ली से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीयूट ऑफ इंडिया में एडमिशन ले लिया था। सुभाष घई एक्टर बनना चाहते थे लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। उन्होंने तकदीर, आराधना और उमंग जैसी फिल्मों में बतौर अभिनेता काम भी किया। लेकिन उन्हें कुछ वक्त बाद ही समझ आ गया कि यहां उनका सिक्का नहीं चलेगा। इसके बाद सुभाष घई ने निर्देशन के क्षेत्र में हाथ आजमाया और कालीचरण जैसी सुपरहिट फिल्म बना डाली। सुभाष घई बॉलीवुड के ऐसे डायरेक्टर रहे जिन्होंने ना जाने कितने सितारों को रातों रात स्टार बना दिया। जिनमें कई बड़ी अभिनेत्रियों का नाम भी शामिल है।

रीना रॉय (Reena Roy)

सुभाई घई ने साल 1976 में फिल्म 'कालीचरण' का निर्देशन किया और ये उनका डायरेक्टोरियल डेब्यू भी था। इस फिल्म में शत्रुघ्न सिन्हा के साथ उन्होंने रीना रॉय को कास्ट किया। शत्रुघ्न सिन्हा के साथ रीना भी रातों रात स्टार बन गईं। इसी साल रीना रॉय की फिल्म नागिन भी रिलीज हुई थी। इसके बाद उन्होंने 1978 में एक बार फिर रीना रॉय और शत्रुघ्न सिन्हा को लेकर फिल्म विश्वनाथ बनाई। ये फिल्म भी सुपरहिट हुई।

मीनाक्षी शेषाद्रि (Meenakshi Seshadri)

साल 1983 में सुभाष घई ने जैकी श्रॉफ और मीनाक्षी शेषाद्रि के साथ फिल्म हीरो बनाई। इस फिल्म से ना सिर्फ जैकी श्रॉफ बल्कि मीनाक्षी शेषाद्रि की किस्मत भी रातों रात चमक गई थी। मीनाक्षी का नाम भी एम शब्द से ही शुरू होता है। इसके बाद मेरी जंग में अनिल कपूर के साथ भी मीनाक्षी ने काम किया। ये फिल्म भी सुपरहिट रही। बॉलीवुड में मीनाक्षी सभी की फेवरेट एक्ट्रेसेस में शुमार हो गई थीं।

माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit)

माधुरी दीक्षित को यूं तो फिल्म तेजाब से पॉपुलैरिटी मिल गई थी। लेकिन उनके करियर को सुभाष घई ने अलग ही बुलंदियों तक पहुंचा दिया। राम लखन और खलनायक जैसी फिल्मों में माधुरी को उन्होंने साइन किया। ये फिल्में माधुरी के करियर की बेहद सफल फिल्मों में से एक रहीं। राम लखन में माधुरी के कैरेक्टर को लोगों ने खूब पसंद किया।

मनीषा कोइराला (Manisha Koirala)

सुभाष घई ने मनीषा कोइराला को फिल्म सौदागर से ब्रेक दिया और वो रातों रात स्टार बन गईं। सौदागर के लिए सुभाष घई को बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड भी मिला। सुभाष घई ने सौदागर को ना सिर्फ डायरेक्ट किया था बल्कि इसे प्रोड्यूस और लिखा भी था।

Neha Kakkar के लिए रोहनप्रीत सिंह ने कुछ इस अंदाज में गाया ‘आंखों की गुस्ताखियां’, फैंस बोले- पति हो तो ऐसा

महिमा चौधरी (Mahima Chaudhry)

परदेश फिल्म के लिए सुभाष घई बिल्कुल नई हीरोइन की तलाश कर रहे थे। वो अपनी फिल्मों के लिए एक्टर्स का चुनाव करने के लिए खूब मेहनत करते थे। उन्होंने लगभग 3000 लड़कियों को रिजेक्ट किया था। उसके बाद महिमा चौधरी को फाइनल किया गया था। सुभाष घई अपने लिए एम शब्द को लकी मानने लगे थे। महिमा का नाम रितु था जिसे बदलकर उन्होंने एक्ट्रेस को ये नाम दिया था।

ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai)

ऐश्वर्या राय को फिल्म ताल के लिए खूब तारीफें मिली थी जिसका क्रेडिट डायरेक्टर सुभाष घई को जाता है। वैसे तो ऐश्वर्या की फिल्म हम दिल दे चुके सनम 1999 में पहले ही रिलीज हो चुकी थी। फिल्म सुपरहिट थी लेकिन ऐश्वर्या को एक्टिंग के ज्यादा उनकी खूबसूरती के लिए सराहना मिली थी। इसके बाद सुभाष घई की ताल भी 1999 में रिलीज हुई और दर्शकों ने एक्ट्रेस को एक्टिंग के लिए सराहा। ताल ऐश्वर्या के करियर की हिट फिल्मों में से एक है।



Source इन 6 अभिनेत्रियों को रातों रात स्टार बनाने वाले निर्देशक हैं Subhash Ghai, ‘एम’ से शुरू होते हैं चार के नाम
https://ift.tt/2MnjU9V

Post a Comment

0 Comments