ads

इस साल भारत में चीन, रूस और ब्राजील से ज्यादा होगा सैलरी में इंक्रीमेंट

नई दिल्ली। भारतीय कंपनियां वर्ष 2021 में अपने कर्मचारियों के वेतन में करीब 7.7 प्रतिशत की वृद्धि करेंगी। मंगलवार को एक सर्वेक्षण में यह दावा किया गया है। वैश्विक पेशेवर सेवा कंपनी एऑन ने मंगलवार को भारत में वेतन वृद्धि पर अपनी ताजा रिपोर्ट में यह बात कही है। सर्वे में 20 उद्योग क्षेत्रों की 1,200 से अधिक कंपनियों की राय को शामिल किया गया है। सर्वे में शामिल 88 प्रतिशत कंपनियों ने कहा कि उनका 2021 में अपने कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि का इरादा है।

यह भी पढ़ेेंः- पीएम मोदी के खास मंत्री ने किया यूपीए सरकार की इस योजना गुणगान, बताया लॉकडाउन में कैसे मिली मदद

एऑन के भारत में प्रदर्शन एवं पारितोषिक कारोबार के भागीदार एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) नितिन सेठी ने कहा कि हम आगामी परिवर्तनों की अनिश्चितता और संभावित प्रभाव को देखते हुए 2021 के वेतन वृद्धि की गति को अधिक समय तक चलते देखने की उम्मीद कर रहे हैं।

यह भी पढ़ेेंः- शेयर बाजार में लौटी रौनक, सेंसेक्स में 200 अंकों की तेजी, निफ्टी 14770 अंकों के पार

सर्वे के अनुसार, अन्य कई मजबूत देशों के मुकाबले भारत में वेतन वृद्धि को लेकर मजबूत सुधार के संकेत मिले हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि संकटग्रस्त 2020 में लगाए गए कड़े लॉकडाउन के बावजूद यह भारत में वेतन वृद्धि की संभावना ब्रिक देशों (ब्राजील, रूस, भारत और चीन) में सबसे अधिक है।

यह भी पढ़ेेंः- सोने के मुकाबले चांदी पर दिख रहा है ज्यादा भरोसा, निवेश 6 साल के उच्चतम स्तर पहुंचने की उम्मीद

सेठी ने कहा कि हालांकि, यह भी संभव है कि कुछ वेतन वृद्धि के मामलों में कर्मचारियों को उस प्रकार से कैश इन हैंड (हाथ में नकदी) का लाभ नहीं मिल पाएगा, अगर कंपनी या संस्थान इस वेतन वृद्धि को भविष्य निधि योगदान के जरिए जारी करेंगे।



Source इस साल भारत में चीन, रूस और ब्राजील से ज्यादा होगा सैलरी में इंक्रीमेंट
https://ift.tt/3kk1R1C

Post a Comment

0 Comments