ads

यह बैंक दे रहे हैं फिक्स्ड डिपोजिट पर कमाई का ज्यादा मौका, जानिए कितना मिल रहा ब्याज

नई दिल्ली। फिक्स्ड डिपॉजिट भारतीयों द्वारा बचत के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सबसे लोकप्रिय योजनाओं में से एक है। यहां तक कि आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत कर-बचत के उद्देश्य से, कई लोग पीपीएफ, ईएलएसएस, यूलिप, एनपीएस जैसे अन्य साधनों पर कर-बचत सावधि जमा को प्राथमिकता देते हैं, जो सुविधा और गारंटीकृत रिटर्न के कारण बेहतर लाभ प्रदान करते हैं। टैक्स बचाने वाली एफडी में एक वित्तीय वर्ष में 1,50,000 रुपये तक बचा सकते हैं। यहां उल्लेख करने योग्य बात यह है कि कर-बचत एफडी सामान्य एफडी से विभिन्न गणनाओं में भिन्न हैं।

टैक्स सेविंग एफडी के साइलेंट फीचर्स
1) कर-बचत सावधि जमा पांच साल की लॉक-इन अवधि के साथ आती है, जिसके पहले आप अपना पैसा नहीं निकाल सकते।

2) केवल निवासी व्यक्ति और हिंदू अविभाजित परिवार इन जमाओं को खोल सकते हैं।

3) टैक्स-सेविंग एफडी एकल या संयुक्त नामों में खोले जा सकते हैं। संयुक्त होल्डिंग के मामले में, केवल पहला धारक धारा 80 सी के तहत कर लाभ का दावा कर सकता है।

4) कोई भी इन एफडी पर मासिक / त्रैमासिक / वार्षिक ब्याज भुगतान विकल्प चुन सकता है। आप कंपाउंडिंग विकल्प भी चुन सकते हैं जिसमें अर्जित ब्याज को फिर से निवेश किया जाएगा।

5) कर-बचत सावधि जमा पर अर्जित ब्याज कर योग्य है। ब्याज राशि आपकी वार्षिक आय में जुड़ जाती है और आपके आयकर स्लैब के अनुसार कर योग्य होगी। देय ब्याज की गणना केवल तिमाही आधार पर की जाती है।

6) बैंक इन एफडी पर अर्जित वार्षिक ब्याज पर 10त्न की दर से टीडीएस (स्रोत पर कर-कटौती योग्य) काटते हैं। यदि आपको कर चुकाने की छूट है, तो आपको बैंक के साथ वित्तीय वर्ष की शुरुआत में फॉर्म 15त्र / ॥ जमा करना होगा।

7) सहकारी बैंकों और ग्रामीण बैंकों को छोड़कर किसी भी सार्वजनिक या निजी क्षेत्र के बैंकों के माध्यम से कर-बचत एफडी खोले जा सकते हैं।

8) पोस्ट ऑफिस की 5 साल की जमा राशि भी धारा 80 सी के तहत कटौती के लिए योग्य है।

9) आप न तो समय से पहले निकासी कर सकते हैं और न ही कर-बचत सावधि जमा के विरुद्ध ऋण ले सकते हैं।

10) इन जमाओं पर दी जाने वाली ब्याज दरें बैंकों में अलग-अलग होती हैं। जबकि भारतीय स्टेट बैंक जैसे बड़े बैंक टैक्स-बचत जमा पर सबसे कम दर की पेशकश करते हैं, निजी क्षेत्र के कुछ छोटे बैंक इन जमाओं पर आकर्षक दरों की पेशकश करते हैं।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today: रिकॉर्ड लेवल की ओर पेट्रोल और डीजल के दाम, आज इतनी चुकानी होगी कीमत

किन बैंकों में एफडी पर मिल रहा है कितना ब्याज

बैंक का नाम एफडी की ब्याल दर ( फीसदी में )
डीसीबी बैंक 6.75
यस बैंक 6.75
इंडसइंड बैंक 6.50
आरबीएल बैंक 6.25
एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.50
ड्यूश बैंक 6
करूर वैश्य बैंक 5.65
उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक 5.55


Source यह बैंक दे रहे हैं फिक्स्ड डिपोजिट पर कमाई का ज्यादा मौका, जानिए कितना मिल रहा ब्याज
https://ift.tt/3f9VX0L

Post a Comment

0 Comments