ads

पोस्ट ऑफिस की इन योजनाओं पर मिलता है भरी ब्याज दर, जानिए कितने समय में होगा आपका पैसा दोगुना

नई दिल्ली. पोस्ट ऑफिस की छोटी बचत योजनाओं में सरकार अच्छी खासी ब्याज की राशि देती है। सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) की बात करें तो पोस्ट ऑफिस की सबसे लोकप्रिय स्कीम है जो बेटियों के लिए चलाई जाती है।
इस योजना में अभी 7.6 परसेंट का ब्याज मिल रहा है और इसमें एक साल में 1.5 लाख रुपये जमा कराए जा सकते हैं। अगर पैसा डबल होने की बात करें तो लगभग 9 साल 4 महीने में पैसा डबल हो जायेगा। साथ ही साथ इसमें टैक्स के हर प्रकार की छूट भी मिलती है।


मंथली स्कीम:

जिन लोगों को हर महीने पैसे की जरूरत होती है, उनके लिए पोस्ट ऑफिस की मंथली स्कीम (MIS) बहुत फायदेमंद रहती है। इस स्कीम पर अभी 6.6 परसेंट का रिटर्न मिल रहा है। आपको बता दें कि इस खाते में अधिकतम 4.5 लाख रुपये जमा कराए जा सकते हैं। खास बात ये है कि इस योजना में ब्याज की दर पहले ही फिक्स हो जाती है जिसके आधार पर जमाकर्ता को हर महीने एक निर्धारित राशि मिलती है।


एमआईएस खाता सिर्फ पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं। इसमें कम से कम 1000 रुपये जमा करने के बाद खाता खुलवा सकते हैं। डिपॉजिट पर सेक्शन 80C के तहत टैक्स की छूट मिलती है, ब्याज से हुई कमाई पर टैक्स लगता है, लेकिन टीडीएस नहीं कटता, खाता खुलने के 1 साल बाद प्रीमैच्योर विड्रॉल कर सकते हैं। 3 साल से पहले पैसा निकालने पर 2 परसेंट पेनाल्टी और 3 साल बाद पैसे निकालने पर 1 परसेंट जुर्माना देना होता है।


पोस्ट ऑफिस की आरडी और एफडी:

इसी तरह पोस्ट ऑफिस में आरडी, एफडी, एनएससी या केवीपी स्कीम भी चलाई जाती है। आरडी पर अभी 5.8 परसेंट ब्याज है और 5 साल की मैच्योरिटी होती है। 100 रुपये से आरडी शुरू कर सकते हैं। ब्याज से हुई कमाई पर टैक्स लगता है लेकिन आरडी के जमा पैसे पर टीडीएस नहीं कटता। इस खाते में हर महीने अगर 1000 रुपये जमा करते हैं तो 70 हजार के आसपास मैच्योरिटी अमाउंट मिलता है। 15,000 रुपये हर महीने जमा कराएं तो 10 लाख के आसपास मिलते हैं।


यह भी पढ़े: पोस्ट ऑफिस की इस सरकारी योजना में निवेश करने पर टैक्स छूट के साथ मिलेगा बेहतर रिटर्न


कौनसी स्कीम है बेहतर:
नेशनल सेविंक सर्टिफिकेट या NSC में अभी ब्याज दर 6.80 परसेंट है, इस स्कीम में 10 साल 4 महीने में पैसे डबल हो जाते हैं। इसमें ब्याज दर पहले ही फिक्स हो जाती है। इस खाते की मैच्योरिटी 5 साल की होती है।

किसान विकास पत्र या KVP में ब्याज दर 6.90 परसेंट है और 124 महीने की मैच्योरिटी होती है। इस स्कीम में 10 साल 3 महीने में पैसा डबल हो जाता है, इसमें भी ब्याज दर पहले ही फिक्स हो जाती है।

दोनों खाते केवल पोस्ट ऑफिस में ही खोले जा सकते हैं। दोनों स्कीम में प्राप्त हुए ब्याज पर टैक्स लगता है, लेकिन टीडीएस नहीं कटता। केवीपी में मैच्योरिटी की अवधि ज्यादा दिनों की होती है, इसलिए एनएससी में पैसे लगने की सलाह दी जाती है।

सेविंग अकाउंट पर ब्याज:

पोस्ट ऑफिस के सेविंग अकाउंट में 4 परसेंट का ब्याज मिलता है, अगर 5 साल के लिए कोई व्यक्ति पोस्ट ऑफिस में टर्म डिपॉजिट या एफडी कराता है तो उसे 6.70 परसेंट का ब्याज मिलेगा। सीनियर सिटीजन हों या सामान्य जमाकर्ता, पोस्ट ऑफिस की एफडी पर सबको समान ब्याज दर देने का नियम है। बैंकों में एफडी पर 5 परसेंट का ब्याज मिल रहा है, लेकिन पोस्ट ऑफिस 6.7 परसेंट देता है। पोस्ट ऑफिस डिपॉजिट स्कीम पर कोई टीडीएस नहीं काटता, इसलिए कमाई का इसे बेहतर स्रोत माना जाता है।



Source पोस्ट ऑफिस की इन योजनाओं पर मिलता है भरी ब्याज दर, जानिए कितने समय में होगा आपका पैसा दोगुना
https://ift.tt/2YybKSm

Post a Comment

0 Comments