ads

11 साल के संघर्ष के बाद मिला था रवि तेजा को लीड रोल, कभी ड्रग्स तो कभी सबसे ज्यादा फीस लेकर रहे चर्चा में

रवि तेजा के परिवार का फिल्मों से कोई वास्ता नहीं था। ऐसे में रवि तेजा का फिल्म इंडस्ट्री में आना और हीरो बनना एक चैलेंज की तरह था। कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद साल 1988 में वे फिल्मों में अपना करियर बनाने के लिए चेन्नई आ गए और फिल्मों के लिए ट्राय करने लगे।

रवि तेजा ने कई जगह ऑडिशन दिये। साल 1990 से 1996 का दौर उनके लिए काफी संघर्ष भरा रहा क्योंकि इस दौरान उन्हें सिर्फ छोटे - मोटे रोल ही करना पड़े। साल 1990 से उनके एक्टिंग करियर की शुरुवात हुई जब उन्हें फिल्म अभिमन्यु में एक छोटा सा रोल करने को मिला।

यह भी पढ़ें इस फिल्म में किसिंग सीन करते हुए डर गईं थी काजल अग्रवाल, जाने क्या था मामला

रवि तेजा एक्टिंग के अलावा असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में भी काम करते थे। ताकि डायरेक्टर उन्हें नोटिस कर सकें। साल 1997 में रवि तेजा की मेहनत रंग लाई और उन्हें एक फिल्म में सपोर्टिंग रोल करने का मौका मिला। साल 1997 में रवि तेजा ने कृष्णा वामसी की फिल्म Sindhooram में काम करने का मौका मिला। इस फिल्म ने National Film Award For Best Feature Film in Telegu का खिताब जीता।

साल 1997 से 2000 तक करीब 14 फिल्मों में काम किया जिनमें से अधिकतर में उन्हें सपोर्टिंग रोल ही मिला। अगर किसी फिल्म में वे लीड रोल में थे तो वो फिल्म मल्टीस्टारर थी। जिसकी वजह से रवि तेजा को उतनी पहचान नहीं मिली जितनी मिलना चाहिए। लेकिन रवि तेजा ने हार नहीं मानी, उन्होने और मेहनत की और आखिर में उन्हें लीड रोल मिल ही गया।

यह भी पढ़ें वैनिटी वैन में रोते हुए, हुई थी नागार्जुन की दूसरी पत्नि से मुलाकात, जाने क्या था मामला

साल 2001 में रवि तेजा को वो फिल्म मिली जिसका उन्हें बरसों से इंतज़ार था। साल 2001 में रवि तेजा को फिल्म Itlu Sraani Subramanyam में लीड रोल मिला। ये फिल्म सुपर हिट हुई और इसका क्रेडिट रवि तेजा को मिला। इस फिल्म के बाद रवि तेजा का करियर चल पड़ा और उन्हें एक के बाद एक फिल्में मिलने लगी जो सुपर हिट साबित हुईं।

आज रवि तेजा एक फिल्म के लिए 5 से 6 करोड़ रूपये फीस लेते हैं। सुपरहिट फिल्म क्रैक के बाद से उनकी फीस और बढ़ गई है। अब उनकी गिनती साऊथ के सबसे महंगे एक्टर में होती है।

हाल ही में रवि तेजा एक ड्रग केस के सिलसिले में चर्चा में रहे थे। दरअसल 2017 में हैदराबाद के एक कॉलेज के छात्र जो ड्रग गतिविधियों में शामिल थे उनका संबंध तेलुगू इंडस्ट्री के एक्टर्स से जुड़ा था। इसके बाद रवि तेजा समेत अन्य एक्टर को जांच एंजेसी के द्वारा पूछताछ के लिए बुलाया गया था।



Source 11 साल के संघर्ष के बाद मिला था रवि तेजा को लीड रोल, कभी ड्रग्स तो कभी सबसे ज्यादा फीस लेकर रहे चर्चा में
https://ift.tt/3CtkGXD

Post a Comment

0 Comments