ads

जानिए 'अंदाज़ अपना अपना' में काम करने के बाद आमिर ने क्यों कहा कि उन्हें सलमाान से दूर रहना है?

बॉलीवुड की पॉपुलर फिल्मों में से एक अंदाज अपना अपना (Andaz Apna Apna) को रिलीज हुए 27 साल हो गए हैं। 4 नवंबर, 1994 को रिलीज हुई इस फिल्म में सलमान खान (Salman Khan) और आमिर खान (Aamir Khan) लीड रोल में थे। इनके अलावा रवीना टंडन (Raveena Tandon) और करिश्मा कपूर (Karishma kapoor) फिल्म की लीड हीरोइनें थीं। फिल्म में परेश रावल (Paresh Rawal) और शक्ति कपूर (Shakti Kapoor) ने भी अहम किरदार निभाया था।

फिल्म की गॉसिप-

1991 में फिल्म ‘अंदाज़ अपना अपना’ की शूटिंग शुरू हुई। फिल्म का मुहूरत धर्मेंद्र और सचिन तेंडुलकर ने किया। अखबारों के गॉसिप कॉलम से लेकर फिल्मी मैग्ज़ीन्स में ‘अंदाज़ अपना अपना’ के सेट पर सलमान और आमिर के बीच इगो क्लैशेज़ की खबरें छपा करतीं। फिल्म से जुड़े कई राइट-अप्स में ये भी लिखा गया कि सलमान और आमिर सेट पर एक-दूसरे से बात तक नहीं करते थे। हालांकि राजकुमार संतोषी ने इन्हें फर्जी खबर बताया। क्योंकि ये कॉमेडी फिल्म थी। सारा खेल एक्टर्स की कॉमिक टाइमिंग और आपसी केमिस्ट्री का था। फिल्म की शूटिंग के दौरान आमिर और सलमान की बहुत अच्छी दोस्ती तो नहीं हुई थी। मगर दोनों कॉर्डियल थे।

sn.jpg

2013 में करण जौहर के टॉक शो ‘कॉफी विद करण’ पर आमिर खान ने बताया था कि ”अंदाज़ अपना अपना में मेरा सलमान के साथ काम करने का एक्सपीरियंस बहुत बुरा रहा था। मुझे वो बिल्कुल पसंद नहीं आया। मुझे वो ऐरोगेंट और दूसरों की परवाह न करने वाला व्यक्ति लगा। मैं आगे भी सलमान से कई बार मिला मगर हम लोग सिर्फ हाय-हल्लो करते थे। अंदाज़ अपना अपना में उसके साथ काम करने के बाद ये लगा कि मुझे इस आदमी से दूर रहना है।”

आमिर उसी इंटरव्यू में बताते हैं कि समय के साथ सलमान के बारे में उनका नज़रिया बदला। आमिर ने आगे कहा कि- ”2002 में रीना से तलाक के बाद मैं एक-डेढ़ साल तक अपने घर में बंद रहता था। मेरी हालत खराब हो रखी थी। इसी समय एक दिन मैं और सलमान टकरा गए। हमारी थोड़ी बातचीत हुई। उसने कहा कि मैं तुम्हारे घर आता हूं। वो मेरे घर आया। हम दोनों साथ में ड्रिंक्स पर बैठे। यहां उसके साथ मेरा एक कनेक्शन बना। हमने आगे ढेर सारा समय साथ में गुज़ारा, जिससे ये कनेक्शन मजबूत होता चला गया। तब मुझे रियलाइज़ हुआ कि सलमान अंदाज़ अपना अपना वाले दिनों की तरह अक्खड़ और बिगड़ैल नहीं रहा। वो मच्योर हो गया है। मुझे उससे मिलकर लगा कि वो बड़े दिल वाला और कमाल का इन्सान है।”

raveena

फिल्म ‘अंदाज़ अपना अपना’ के सेट पर आमिर और सलमान का इक्वेशन तो साफ हो गया। मगर फिल्म की लीडिंग लेडीज़ के बीच वाकई सबकुछ ठीक नहीं था। फिल्म के डायरेक्टर राजकुमार संतोषी अपने एक इंटरव्यू में बताते हैं कि बाकी फिल्म तो जैसे-तैसे खिंच गई। मगर क्लाइमैक्स की शूटिंग के दौरान रवीना और करिश्मा के बीच काफी ठनी हुई थी। एक्चुअली दोनों ही एक्ट्रेस संजय गुप्ता की फिल्म ‘आतिश’ शूट करने के लिए इंडिया से बाहर गई हुई थीं। जब वो वापस इंडिया आईं, तो किसी बात को लेकर दोनों के बीच एयरपोर्ट पर लड़ाई हो गई। इसलिए क्लाइमैक्स की शूटिंग के दौरान करिश्मा और रवीना एक-दूसरे से बात नहीं कर रही थीं।

यही नहीं रवीना टंडन ने बताया था कि- फिल्म का कोई स्टार एक-दूसरे से जरा भी बात नहीं करता था, लेकिन फिल्म के एक-एक सीन में हम मस्ती करते थे। फिल्म की शूटिंग के दौरान हमें अपनी हंसी पर कंट्रोल करना भी बड़ा मुश्किल होता था। आमिर ने फिल्म में बहुत मजाक किया। वहीं सलमान खान ने फिल्म में शानदार सीन्स देने के साथ कई गालियां भी दीं।

रवीना टंडन के मुताबिक, फिल्म के लिए शूट किए एक क्लाइमेक्स सीन में मुझे और करिश्मा को एक पिलर से बांध दिया गया था। यह सीन शूट होने के बाद डायरेक्टर ने हमसे कहा था कि आप दोनों को तब तक नहीं खोला जाएगा, जब तक कि आप एक-दूसरे से बात करना शुरू नहीं कर देते।

यह भी पढ़ें-जब सुनील दत्त को ढूंढते हुए सेट पर अचानक पहुंच गई थीं नरगिस, पास बैठे पति को पहचान भी नहीं पाई थीं

‘अंदाज अपना अपना’ फिल्म को बनने में तीन साल का वक्त लगा था। फिल्म के लीड एक्टर आमिर खान और सलमान खान इस फिल्म में स्क्रीन पर ज्यादा दिखना चाहते थे, लेकिन बाद में दोनों एक बराबर फीस में काम करने को राजी हो गए थे। आमिर ने एक लीडिंग न्यूज पेपर को दिए इंटरव्यू में बताया था कि उनकी इस फिल्म का सिर्फ तीन दिन ही प्रमोशन किया गया था। ‘अंदाज अपना अपना’ की स्टोरी कई फिल्मों से ली गई, जिसमें दिलीप कुमार की ‘राम और श्याम और हेमा मालिनी की ‘सीता और गीता’ भी शामिल है। फिल्म में प्रेम (सलमान) जब अपने चाचा को ढूंढ रहे होते हैं, तो उन्हें दो-दो तेजा दिखते हैं। इस पर सलमान कहते हैं, ये तो बिल्कुल फिल्म ‘सीता और गीता’ की तरह है। वहीं अमर (आमिर) इसे सही करते हुए कहते हैं कि ये ‘राम और श्याम’ की तरह है।

‘अंदाज अपना अपना’ में एक डायलॉग है, जिसे आमिर खान और ऋषि कपूर ने साल 1993 में आई फिल्म ‘दामिनी’ के दौरान डिस्कस किया था। फिल्म में जगदीप ने बांकेलाल भोपाली का रोल किया था, इससे पहले वह फिल्म ‘शोले’ में सूरमा भोपाली का किरदार निभा चुके थे।

यह भी पढ़ें-जानिए क्यों कादर खान की मां की मौत का किसी नहीं किया यकीन



Source जानिए 'अंदाज़ अपना अपना' में काम करने के बाद आमिर ने क्यों कहा कि उन्हें सलमाान से दूर रहना है?
https://ift.tt/3qwVRro

Post a Comment

0 Comments